- राजनीती
- व्यापार
- महिला जगत
- बाल जगत
- छत्तीसगढ़ी फिल्म
- लोक कल
- हेल्पलाइन
- स्वास्थ
- सौंदर्य
- व्यंजन
- ज्योतिष
- यात्रा

ब्रेकिंग न्यूज़ :

श्ौक्षणिक न्यायाधिकरण विधेयक अगले सत्र के लिए टला |

होम
प्रमुख खबरे
छत्तीसगढ़
संपादकीय
लेख  
विमर्श  
कहानी  
कविता  
रंगमंच  
मनोरंजन  
खेल  
युवा
समाज
विज्ञान
कृषि 
पर्यावरण
शिक्षा
टेकनोलाजी 
श्ौक्षणिक न्यायाधिकरण विधेयक अगले सत्र के लिए टला
Share |

नई दिल्ली। राज्यसभा ने मंगलवार को शैक्षणिक न्यायाधिकरण विधेयक को अगले सत्र के लिए टाल दिया। यह निर्णय सदन की सहमति पर लिया गया। मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल, कई विपक्षी सदस्यों द्वारा की गई इस मांग पर राजी हो गए कि विधेयक को फिलहाल टाल दिया जाए। अपने जवाब में सिब्बल ने विपक्षी सदस्यों के उस तर्क को खारिज कर दिया कि शौक्षणिक न्यायाधिकरण विधेयक-2010 जल्दबाजी में लाया गया है या स्थायी समिति के सुझावों का इसमें सम्मान नहीं किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि विधेयक राज्यों के अधिकार क्षेत्र को बिल्कुल प्रभावित नहीं करेगा। सिब्बल ने कहा कि यदि सदस्य चाहते हैं कि विधेयक को टाल दिया जाए तो उन्हें इसमें कोई समस्या नहीं है।


Send Your Comment
Your Article:
Your Name:
Your Email:
Your Comment:
Send Comment: