- राजनीती
- व्यापार
- महिला जगत
- बाल जगत
- छत्तीसगढ़ी फिल्म
- लोक कल
- हेल्पलाइन
- स्वास्थ
- सौंदर्य
- व्यंजन
- ज्योतिष
- यात्रा

ब्रेकिंग न्यूज़ :

नामवरी जीवन और एकांत भरा अंतिम अरण्य जीवेश प्रभाकर...............युद्धोन्माद की यह लहर उत्तर भारत में ही क्यों बहती है?..................जाति और योनि के कठघरे में जकडा भारतीय समाज........................नई करवट लेता भारत का किसान आन्दोलन.....................प्रधानमंत्री पांच मिनट के लिए भी राजनीति बंद नहीं कर सकते, हमारे बीच यही अंतर है : राहुल गांधी......................आदिवासियों की बेदखली पर सुप्रीम कोर्ट की रोक.......................3 मार्च को दिल्ली संसद मार्ग पर मज़दूर अधिकार संघर्ष रैली.......................... | रामनरेश राम : किसानों की मुक्ति के प्रति प्रतिबद्ध एक क्रांतिकारी कम्युनिस्ट-------------10 वां पटना फिल्मोत्सव ----------------असीमित अपेक्षाओं और वायदों के अमल की चुनौतियों की पहली पायदान पर ख़रे उतरे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल----------नई करवट लेता भारत का किसान आन्दोलन------------------अजीत जोगी : न किंग बने न किंगमेकर -दिवाकर मुक्तिबोध----------------------- | राजनीति का समाजशास्त्रीय अध्ययन---प्रभाकर चौबे------मुफ्त सार्वजनिक परिवहन का यह एस्तोनियाई मॉडल बाकी दुनिया के लिए कितना व्यावहारिक है?------------कितना मुमकिन हैं कश्मीर में पंचायत चुनाव---------कुलदीप नैयर का निधन-------चे गेवारा : एक डॉक्टर जिसके सपने जाने कितनों के अपने बन गए--------निराश करता है 'भावेश जोशी--------तर्कशील, वैज्ञानिक, समाजवादी विवेकानंद-- डा दत्तप्रसाद दाभोलकर-------डॉनल्ड ट्रंप पर महाभियोग का कितना खतरा----- | राजनीति में शांत रस काल चल रहा -प्रभाकर चौबे सबके हबीब - जीवेश प्रभाकर'महागठबंधन' लोगों की भावना है न कि राजनीति, बीजेपी के खिलाफ पूरा देश एकजुट:राहुल गांधीफीफा वर्ल्ड कप , जानिए कुछ रोचक तथ्यचे गेवारा : एक डॉक्टर जिसके सपने जाने कितनों के अपने बन गए..निराश करता है 'भावेश जोशी.फीफा वर्ल्ड कप , जानिए कुछ रोचक तथ्य. | | नक्सली हिंसा छोड़े तो वार्ता को तैयार : मनमोहन | केन्द्रीय निगरानी समिति के अध्यक्ष ने राजधानी में किया दो राशन दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण | मुख्यमंत्री से न्यायमूर्ति श्री वाधवा की सौजन्य मुलाकात | राशन वितरण व्यवस्था का जायजा लेंगे न्यायमूर्ति श्री डी.पी.वाधवा | सरकार कश्मीर के बारे में पूरी तरह बेखबर : करात |

होम
प्रमुख खबरे
छत्तीसगढ़
संपादकीय
लेख  
विमर्श  
कहानी  
कविता  
रंगमंच  
मनोरंजन  
खेल  
युवा
समाज
विज्ञान
कृषि 
पर्यावरण
शिक्षा
टेकनोलाजी 
CBSE दसवीं परीक्षाः ऑल इंडिया में चार टॉपर, 1.31 लाख को 90% से ज्यादा अंक
Share |

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानि सीबीएसई ने इस साल हुई दसवीं के इम्तिहान का रिजल्ट जारी कर दिया है. दिलचस्प बात ये है कि इस बार देश भर में चार छात्रों ने 500 में 499 अंक लेकर पहले स्थान हासिल किया है. डीपीएस गुड़गांव के प्रखर मित्तल, आरपी पब्लिक स्कूल बिजनौर की रिमझिम अग्रवाल, शामली के स्कॉटिश इंटरनेशनल स्कूल की नंदिनी गर्ग और कोचिन के भवन्स विद्यालय की श्रीलेखा जी इस साल की टॉपर हैं.चार टॉपरों में से तीन लड़कियां हैं.मानव संसाधन मंत्रालय के सचिव अनिल स्वरूप ने बच्चों रिजल्ट देखकर को परेशान न होने की सलाह दी है. उन्होंने ट्वीट किया है, "रिजल्ट आ चुका है. अब आप कुछ नहीं कर सकते हैं. आपने जो बोया है ये उसी का फल है. आपको जो मिला है उसमें संतुष्ट रहें और अपना भविष्य बनाएं." पांच मार्च से चार अप्रैल के बीच में हुई इस परीक्षा में देशभर के 17,567 स्कूलों के 16.24 लाख बच्चे शामिल हुए थे. परीक्षा में कुल 86.70 प्रतिशत बच्चे सफल रहे. लड़के के मुकाबले लड़कियों ने इस साल भी बेहतर प्रदर्शन किया है.इस साल 88.67 प्रतिशत लड़कियां परीक्षा में सफल हुईं. वहीं, 85.32 प्रतिशत लड़के सफल रहें. परीक्षा में 95 फीसदी से अधिक अंक लाने वाले छात्रों की संख्या 27,476 है. वहीं, 90 फ़ीसदी से अधिक अंक लाने वालों का यह आंकड़ा 1.31 लाख है.इस क्षेत्र में पास होने का प्रतिशत 99.60 रहा. इसके बाद चेन्नई रीजन का सफलता प्रतिशत 94.37 रहा. तीसरे स्थान पर अजमेर रीजन रहा. यहां के 91.86 प्रतिशत छात्र सफल रहें.


Send Your Comment
Your Article:
Your Name:
Your Email:
Your Comment:
Send Comment: