सरोकार

केरल के पूर्व DGP ने पूछा: आज तक वाले स्वभावत: मूर्ख हैं या कोई कोर्स किया है?

July 20, 2020

हिंदी न्यूज़ चैनलों ने मोदीभक्ति में मूर्खता की तमाम हदें पार कर दी हैं। हाल ये है कि जिनके भी दिमाग़ में बुद्धि की बत्ती जल रही है, वे इन चैनलों को देखकर सिर पीट रहे हैं। लंबे समय तक लोग चुप साधकर हालात दुरुस्त होने का इंतज़ार कर रहे थे, लेकिन अब शायद पानी […]

Read More

भगवान राम का भारतीय होना आरएसएस के लिए क्यों जरूरी है?

July 17, 2020

विष्णु शर्मा  केपी ओली के बयान से भारतीय हिंदुओं का कट्टरपंथी और नस्लवादी तबका और उसके हितों को ऊर्जा देने वाले मीडिया का एक हिस्सा बेचैन और कंफ्यूज हो गया है. नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भगवान राम और उनकी अयोध्या को लेकर हाल में जो बयान दिया है उससे भारतीय हिंदुओं […]

Read More

सिलेबस कम करने के नाम पर भारतीय राष्ट्रवाद की मूल अवधारणाओं पर चोट- राम पुनियानी

July 16, 2020

सांप्रदायिक ताकतों ने पहले कोरोना प्रसार के लिए मुसलमानों को दोषी ठहराया और अब पाठ्यक्रम को हल्का करने के नाम पर भारतीय राष्ट्रवाद की मूल अवधारणाओं से जुड़े अध्याय- संघवाद, नागरिकता, राष्ट्रीयता, धर्मनिरपेक्षता, मानवाधिकार आदि को सिलेबस से हटाया जा रहा है कोविड-19 ने जहां पूरी दुनिया में कहर बरपा कर रखा है, वहीं कई […]

Read More

कश्मीर आज ‘शहीद दिवस’ मनाता हैः13 जुलाई 1931 का जन-विद्रोह – अशोक कुमार पाण्डेय

July 13, 2020

कश्मीर मे डोगरा शासन के दौर मे भयानक उपेक्षा और शोषण से पीड़ित जन तीस का दशक आते-आते अपने गुस्से के साथ सड़क पर आने लगे थे। अलीगढ़ से रसायन शास्त्र मे एमएससी करके लौटे शेख़ अब्दुल्ला को एक हाईस्कूल मे नौकरी मिली तो वह कुछ अन्य नौजवानों के साथ मिलकर “रीडिंग रूम पार्टी ” […]

Read More

लॉकडाउन के भाले पर शहीद हुए घुमन्तू समुदाय के बच्चों का ज़िक़्र किसी फ़साने में नहीं!

July 13, 2020

अश्वनी कबीर लॉक डाउन में जो सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं और जिनके लिए बहुत ही कम बात हुई है वो हैं घुमन्तू समुदाय के बच्चे। लॉक डाउन भले ही बीत गया लेकिन इन बच्चों का लॉक डाउन तो न जाने कब से चला आ रहा है और अनन्त तक चलेगा। हाल ही में जयपुर […]

Read More

कल बेहतर होगा, तभी जब हम स्वयं इस दिशा में कदम उठाएं

July 10, 2020

सुनीता नारायण प्राकृतिक गैस एवं हाइडेल, बायोमास इत्यादि जैसे स्वच्छ साधनों से ईंधन मिले तो प्रदूषण के स्तर में स्थानीय स्तर पर कमी तो आएगी ही, साथ ही साथ जलवायु परिवर्तन पर भी लगाम लगेगी. यह हमारे जीवनकाल का सबसे अजीब एवं संकटग्रस्त समय है. लेकिन साथ ही साथ यह सर्वाधिक भ्रमित करने वाला भी […]

Read More

ख्वाब, हकीकत और उम्मीद के बीच फंसी है आधी आबादी

July 9, 2020

नासिरुद्दीन बतौर समाज महिलाओं के बारे में हमारे नजरिए में क्रांतिकारी बदलाव आ गया, ऐसा कुछ हुआ नहीं। देश तो आगे बढ़ता रहा और महिलाएं भी। मगर साथ-साथ भेदभाव और गैरबराबरियों के नित नए रूप सामने आए। हिंसा का साया नए-नए तरीके से उनका पीछा करता रहा। भारत की महिलाएं उन चंद देशों में हैं […]

Read More

महात्मा गाँधी: उपनिवेशवाद और नस्लवाद विरोधी आंदोलनों की प्रेरणा -राम पुनियानी

July 6, 2020

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी ने दुनिया के सबसे बड़े जनांदोलन का नेतृत्व किया था. यह जनांदोलन ब्रिटिश साम्राज्यवाद के विरुद्ध था. गांधीजी के जनांदोलन ने हमें अन्यायी सत्ता के विरुद्ध संघर्ष करने के लिए दो महत्वपूर्ण औज़ार दिए – अहिंसा और सत्याग्रह. उन्होंने हमें यह सिखाया कि नीतियां बनाते समय हमें समाज की आखिरी पंक्ति के […]

Read More

क्या प्रधानमंत्री का लेह दौरा एक सांकेतिक गुब्बारे के सिवाय और कुछ नहीं?

July 6, 2020

अजय कुमार  कूटनीति की दुनिया में यह कहा जाता है कि इशारों का भी बहुत महत्व होता है। अब सवाल यही है कि क्या प्रधानमंत्री ने लेह में जाकर इशारों ही इशारों में वह बात कही जो चीन को दबाव में डाल दे? या कुछ ऐसा कहा जिससे ऐसा लगे कि चीन सेना भारत की […]

Read More

भारतीय इतिहास को लेकर जी डी बख़्शी के दावे और पुरातत्वविद् शिरीन रत्नागर के जवाब

July 2, 2020

जेएनयू के एक वेबिनार में भारतीय इतिहास को लेकर सेवानिवृत्त मेज़र जनरल, जी.डी.बख़्शी के “सरस्वती सभ्यता” पर व्याख्यान  में किये गये एक-एक दावों को लेकर पुरातत्वविद शिरीन रत्नागर ने जवाब दिया है। कई वर्षों से सिंधु घाटी सभ्यता पर काम कर रहीं प्रख्यात पुरातत्वविद् रत्नागर की अब तक कई किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं और उन्हें […]

Read More