समसामयिक

लोगों को क़र्ज़ नहीं, तत्काल नगद पैसा दे सरकार- राहुल गांधी

May 29, 2020

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि “ कर्ज की नहीं   आज हिंदुस्तान की गरीब जनता को नगद पैसे की जरूरत है, इसलिये कांग्रेस पार्टी एक आवाज से सरकार से चार मांगे कर रही है। पहली मांग हर गरीब परिवार के बैंक अकाउंट में महीने का 7,500 रुपये छह महीने के लिए डाला […]

Read More

क्या जवाहर लाल नेहरू के दादा का नाम गयासुद्दीन गाजी था? भ्रामक प्रचार और तथ्य –

May 27, 2020

स्वाति फेसबुक-वॉट्सऐप पर हो सकता है कि आपने कुछ इस मजमून वाले मैसेज देखे हों: जवाहरलाल नेहरू एक कोठे पर पैदा हुए थे. खुद को कश्मीरी पंडित बताने वाला ये नेहरू परिवार असल में ‘मुसलमानों की पैदाइश’ है. किसी और का सरनेम देखा हो ये तो बताओ? असल में नेहरू के दादा का नाम था […]

Read More

“ऐसी स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को अमल में लाया जाना चाहिए,जिसके तहत सभी लोग आते हों”- रोमिला थापर

May 24, 2020

रोमिला थापर से मुकुलिका आर की बातचीत इंडियन कल्चरल फ़ोरम भारतीय इतिहासकारों के साथ बीमारी पर एक लघु श्रृंखला शुरू कर रहा है। इस पहले फ़ीचर में मुकुलिका आर ने रोमिला थापर से महामारी के दौरान और कोविड-19 के बाद की दुनिया के लोकतंत्र की कल्पना को लेकर बातचीत की है। सदियों से एक दूसरे […]

Read More

राहुल गांधी – मजदूरों के साथ संवादः देश की शक्ति हैं मजदूर, देश चाहता है उनके साथ ‘न्याय’

May 23, 2020

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यूट्यूब पर एक डॉक्यूमेंट्री शेयर की है। जिसमें राहुल गांधी ने मजदूरों को समस्याओं को सुना और प्रवासी मजदूरों से बातचीत कर उनका दर्द साझा किया है। यू ट्यूब पर इसे सुना जा सकता है- लिंत नीचे दी गई है- https://www.youtube.com/watch?v=985K_X1c5k8&feature=emb_logo कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हाल ही में दिल्ली में […]

Read More

आर्थिक महाविनाश की कगार पर देश: रघुराम राजन

May 22, 2020

भारतीय रिज़र्व बैंक के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन का मानना है कि देश आर्थिक महाविनाश की कगार पर खड़ा है औरअर्थव्यवस्था को सुधारना अकेले प्रधानमंत्री कार्यालय के बूते की बात नहीं है इसलिए पूर्व वित्त मंत्रियों समेत कई दूसरे लोगों की मदद लेनी चाहिए और इसमें यह नहीं देखना चाहिए कि वह आदमी किस राजनीतिक दल […]

Read More

आर्थिक पैकेजः क्या मोदी सरकार शहरों की भीड़ कम करना चाहती है ?

May 19, 2020

By-इला पटनायक एवं राधिका पांडेय     ऐसा लगता है कि सरकार शहरों की भीड़ कम करने की कोशिश कर रही है, क्योंकि शहरी क्षेत्रों के कल्याण और बेरोज़गारी सहायता के लिए कोई कार्यक्रम घोषित नहीं किए गए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के घोषित आर्थिक पैकेज में ग्रामीण क्षेत्रों के प्रति विशेष झुकाव, उद्योगों के लिए मुख्य […]

Read More

भारत में मुस्लिमों के ख़िलाफ़ बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण: अमेरिकी राजनयिक

May 18, 2020

अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता के लिए अमेरिका के विशेष दूत सैम ब्राउनबैक ने दुनियाभर के अल्पसंख्यक समुदाय पर कोविड-19 के प्रभाव को लेकर कहा कि भारत में इस दौरान फ़र्ज़ी ख़बरों के आधार पर मुस्लिम समाज को प्रताड़ना की कई घटनाएं सामने आई हैं. वाशिंगटन: अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता के लिए अमेरिका के विशेष दूत सैम ब्राउनबैक दुनियाभर […]

Read More

राहुल गांधी ने फुटपाथ पर उतर कर जाना मजदूरों का हाल

May 17, 2020

राहुल गांधी देश के पहले व एकमात्र राजनेता हैं जो  दिल्ली में मजदूरों से मिले , फुटपाथ पर बैठकर उनसे बातचीत की और उनकी समस्याएं जानी. देश में कोरोना संकट और लॉकडाउन की सबसे ज्यादा मार प्रवासी मजदूरों पर पड़ी है.इसी के मद्देनज़र कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने संक्रमण के तमाम खतरों के […]

Read More

श्रम कानूनों में बदलाव भारत को सौ साल पीछे ले जाएगा

May 15, 2020

By- अरुणा रॉय और विनीत भाम्भू कोविड महामारी ने पूरे विश्व को कई मायनों में प्रभावित कर अर्थव्यवस्था के स्थापित ढांचों को हिला दिया है। जिस व्यापक तरीके से यह महामारी फैली, उससे निपटने के लिए उसी व्यापकता और वैश्विक सोच के साथ कदम उठाने की जरूरत है। भारत ने इससे निपटने के लिए लॉकडाउन […]

Read More

आर्थिक पैकेज की पहली किश्त से गरीब नदारद

May 14, 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस आर्थिक पैकेज की घोषणा की, उसकी विस्तृत जानकारी की उत्सुकता से प्रतीक्षा हो रही थी. प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा था कि ये पैकेज चार एल पर आधारित होगा – लैंड यानी भूमि, लेबर यानी श्रमिक, लॉ यानी कानून और लिक्विडिटी यानी नकदी. मगर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की […]

Read More