Author: admin

कहानीः ‘ऐरेबी’- जेम्स ज्वॉयस

October 23, 2020

जेम्स जॉयस (02 फरवरी 1882,  – 13 जनवरी 1941) – जेम्स ऑगस्टिन अलॉयसियस जॉयस एक आयरिश उपन्यासकार, लघु कहानी लेखक और कवि थे। 20 वीं शताब्दी के सबसे प्रभावशाली और महत्वपूर्ण लेखकों में से एक माना जाता है।  यूलीसिस (1922) उनकी महत्वपूर्ण रचना है। इसके साथ ही शॉर्ट-स्टोरी संग्रह डबलिनर्स (1914), और उपन्यास ए पोर्ट्रेट ऑफ़ […]

Read More

वह कौन सी वजह थी जिसने दुर्गा पूजा को बंगाल का सबसे बड़ा पर्व बना दिया?

October 23, 2020

चंदन शर्मा बंगाल में दुर्गा पूजा की इस लोकप्रियता के तार छह सदी पीछे जाते हैं और भारतीय दर्शन में ‘भक्ति’ की संकल्पना देने वाले कृतिबास ओझा से जुड़ते हैं राम को दुर्गा की आराधना करते हुए दिखाकर वे दोनों संप्रदायों के बीच एकता और संतुलन कायम करने में सफल रहे. इस प्रसंग से राम […]

Read More

रिपब्लिक को फटकार, चीख-चीखकर हत्या कैसे बता सकते हैं?

October 22, 2020

संजय राय जांच भी आप करो, आरोप भी आप लगाओ और फ़ैसला भी आप ही सुनाओ! तो अदालतें किसलिए बनी हैं? यह कोई फ़िल्मी डायलॉग नहीं बल्कि बॉम्बे हाई कोर्ट की फटकार है, जो उसने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिपब्लिक चैनल की रिपोर्टिंग के तरीके को लेकर सुनाई है। हाई कोर्ट ने […]

Read More

काकोरी कांड का मतवाला शहीद शायर अशफाक़ उर्फ़ वारसी उर्फ़ हसरत

October 22, 2020

शाहीन अंसारी अशफाक पर महात्मा गांधी का काफी प्रभाव था, लेकिन चौरी-चौरा कांड के बाद जब महात्मा गांधी ने अपना असहयोग आंदोलन वापस ले लिया था, तब हजारों की संख्या में युवा खुद को धोखे का शिकार समझ रहे थे। अशफ़ाक उल्ला खान उन्हीं में से एक थे। उन्हें लगा अब जल्द से जल्द भारत […]

Read More

स्विट्जरलैंड और शिफॉन साड़ियों से बहुत पहले यश चोपड़ा हिंदू-मुस्लिम एकता के झंडाबरदार भी थे

October 22, 2020

शुभम उपाध्याय बाद में बेहद सराही और राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजी गई यश चोपड़ा की फिल्म ‘धर्मपुत्र’ को रिलीज के वक्त हिंदूवादी संगठनों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा था.किंग ऑफ रोमांस’ कहे जाने वाले यश चोपड़ा को पलायनवादी सिनेमा के अग्रणी फिल्मकारों में गिना जाता है.लेकिन पलायनवादी सिनेमा का सिरमौर बनने से बहुत […]

Read More

कहानी: क्लर्क की मौत – चेखव

October 21, 2020

अंतोन पावलेविच चेखव (1860-1904) –  रूसी कथाकार और नाटककार अंतोन पावलेविच चेखव  विश्व के सबसे महत्वपूर्ण लेखकों में से एक हैं।  चेखव के लेखन में अपने समय का जैसा गहन और मार्मिक वर्णन मिलता है। चेखव की संवेदना में मानवीयता का तत्व बहुत गहरा है । चेखव की कला में सादगी एक असाधारण शक्ति के रूप में उभरी है […]

Read More

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त ने यूएपीए पर भारत को लगाई फटकार

October 21, 2020

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त मिशेल बैचले ने यूएपीए पर सरकार की विशेष रूप से आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए संघर्ष करने वाले लोगों को इसके तहत निशाना बनाया गया है, ख़ास कर समान नागरिकता क़ानून के मुद्दे पर विरोध करने वालों पर यह लगाया गया। अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारों के […]

Read More

नैन सिंह रावत : जिन्होंने दुनिया के नक्शे पर तिब्बत का भूगोल जोड़ा था

October 21, 2020

महान खोजकर्ता, सर्वेयर और मानचित्रकार नैन सिंह रावत का काम इंसानी हौसले की असाधारण मिसाल है . उन्होंने दुनिया में सबसे पहले ल्हासा की समुद्र तल से ऊंचाई नापी. इसके साथ उन्होंने इस शहर के अक्षांश और देशान्तर की भी गणना की. यह आज की आधुनिक मशीनों से की गई गणना के बहुत करीब है. […]

Read More

ग़ैरज़िम्मेदार पत्रकारिता पर अंकुश लगाकर अदालत ने उम्मीद जगायी

October 21, 2020

अजय तिवारी अर्णव गोस्वामी के रिपब्लिक इंडिया के बाद सुधीर चौधरी के ज़ी न्यूज़ की बारी आ गयी।  कल मुंबई हाईकोर्ट ने अर्णव को गिरफ़्तारी-पूर्व ज़मानत देने से मना कर दिया और आज दिल्ली हाईकोर्ट ने ज़ी न्यूज़ से कहा कि जामिया के छात्र पर अपने आरोप का स्रोत बताओ! अदालत ने वक़ील की यह […]

Read More

मुसलमानों पर मोहन भागवत के बयान और दशहरे पर देवबंद दौरे की संभावना में छुपे सूत्र

October 21, 2020

तौसीफ़ क़ुरैशी दशहरे के क़रीब या उसके बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत देश दुनिया में अपनी पहचान इस्लामिक नगरी के रूप रखने वाले दारूल उलूम देवबन्द का दौरा कर सकते हैं जहां उनकी मुलाक़ात इस्लामिक विद्वानों से होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। हिन्दुस्तान में ही नही दुनियां में दारूल […]

Read More