विविध

जामिया, मुजीब भाई और मैं -6: असग़र वजाहत

July 13, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  महत्त्वपूर्ण कहानीकार एवं   नाटककार के रूप में सम्मानित नाम हैं। इन्होंने कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के अध्यक्ष रहे । हम उनके […]

Read More

11 जुलाई पुण्यतिथि पर- भीष्म साहनी : हिन्दी का यश

July 11, 2020

-जाहिद खान 11 जुलाई, प्रगतिशील और प्रतिबद्ध रचनाकार भीष्म साहनी का पुण्यतिथि दिवस है। इस मौके पर उन्हें याद करना, एक शानदार और पायदार परम्परा को याद करना है। वे एक अच्छे रचनाकार के अलावा कुशल संगठनकर्ता भी थे। प्रगतिशील लेखक संघ के महासचिव के तौर पर उन्होंने देश भर में इस संगठन की विचारधारा […]

Read More

उम्मीद जगाती है कश्मीर की यह सच्ची कहानी जो लोगों तक पहुंच नहीं पाती

July 10, 2020

ग़ुलाम नबी शेख़ की वजह से यह विश्वास कर पाना मुश्किल है कि कश्मीर के अनंतनाग जिले में स्थित इस मंदिर में सालों से किसी ने पूजा-अर्चना नहीं की है पिछले करीब 30 सालों से ग़ुलाम नबी शेख रोज़ फ़जर की नमाज़ मस्जिद में पढ़ने के बाद उनके घर के पास ही स्थित ज़यादेवी (जयदेवी) […]

Read More

लखनऊ हिंसा: वसूली नोटिस रद्द कराने हाईकोर्ट पहुंचे पूर्व आईजी और ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के दारापुरी

July 7, 2020

लखनऊ हिंसा मामले में तहसीलदार सदर द्वारा दी गई वसूली नोटिस को रद्द कराने के लिए आज ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता एस. आर. दारापुरी ने इलाहाबाद उच्चन्यायालय की लखनऊ खंडपीठ में याचिका दाखिल की है। जिसे हाईकोर्ट ने स्वीकार कर डायरी नंबर 6875/ 2020 आवंटित किया है। याचिका में योगी सरकार की […]

Read More

जामिया, मुजीब भाई और मैं (5) – असग़र वजाहत

July 5, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  महत्त्वपूर्ण कहानीकार एवं   नाटककार के रूप में सम्मानित नाम हैं। इन्होंने कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के अध्यक्ष रहे । हम उनके जामिया […]

Read More

जामिया, मुजीब भाई और मैं(4 )- असग़र वजाहत

July 4, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  महत्त्वपूर्ण कहानीकार एवं   नाटककार के रूप में सम्मानित नाम हैं। इन्होंने कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के अध्यक्ष रहे । हम उनके जामिया […]

Read More

जामिया, मुजीब भाई और मैं (3) – असगर वजाहत

July 3, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  महत्त्वपूर्ण कहानीकार एवं   नाटककार के रूप में सम्मानित नाम हैं। इन्होंने कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के अध्यक्ष रहे । हम उनके […]

Read More

जामिया, मुजीब भाई और मैं (2) : असग़र वजाहत

July 2, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  कहानीकार एवं  नाटककार के रूप में सम्मानित नाम है । कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष रहे । हम उनके जामिया से […]

Read More

जामिया, मुजीब भाई और मैं (1) : असग़र वजाहत

June 30, 2020

असग़र वजाहत (जन्म – 5 जुलाई 1946) – हिन्दी साहित्य  में  कहानीकार एवं  नाटककार के रूप में सम्मानित नाम है । कहानी, नाटक, उपन्यास, यात्रा-वृत्तांत, फिल्म तथा चित्रकला आदि विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण रचनात्मक योगदान किया है। इन्होने दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया में लगभग 40 वर्षों तक अध्यापन किया एवं हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष रहे । हम उनके जामिया […]

Read More

बहुत गहरी हैं नस्लीय और जातिवादी नफरत की जड़े – राम पुनियानी

June 29, 2020

अमरीका के मिनियापोलिस शहर में जॉर्ज फ्लॉयड नामक एक अश्वेत नागरिक की श्वेत पुलिसकर्मी डेरेक चौविन ने हत्या कर दी. चौविन ने अपना घुटना फ्लॉयड की गर्दन पर रख दिया जिससे उसका दम घुट गया. यह तकनीक इस्राइली पुलिस द्वारा खोजी गई है. श्वेत पुलिसकर्मी नौ मिनट तक अपना घुटना फ्लॉयड की गर्दन का रखे […]

Read More