Author: admin

क्या सिलेबस में लोकतंत्र की विषयवस्तु गैरज़रूरी है?

July 11, 2020

अजय कुमार  “सिलेबस को कभी भी केवल क्लास पास करने या फेल करने को आधार बनाकर नहीं देखना चाहिए। सिलेबस कट करने के नाम पर सरकार अपना एजेंडा थोपने की कोशिश कर रही है।” कोविड-19 महामारी की वजह से सब कुछ प्रभावित है। स्वास्थ्य और रोज़गार के अलावा इसका शिक्षा पर भी बहुत बड़ा असर […]

Read More

स्कूल फीस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अभिभावकों को दिया बड़ा झटका, सुनवाई से इनकार

July 10, 2020

सुप्रीम कोर्ट ने स्कूल फीस मामले में अभिभावकों को बड़ा झटका देते हुए फीस वसूलने के मामले में रोक लगाने से साफ़ इंकार किया है। निजी स्कूलों की तरफ से ऑनलाइन क्लास  के नाम पर स्कूलों की तरफ से पूरी फीस वसूलने के खिलाफ दायर पेटिशन पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ मना किया […]

Read More

कल बेहतर होगा, तभी जब हम स्वयं इस दिशा में कदम उठाएं

July 10, 2020

सुनीता नारायण प्राकृतिक गैस एवं हाइडेल, बायोमास इत्यादि जैसे स्वच्छ साधनों से ईंधन मिले तो प्रदूषण के स्तर में स्थानीय स्तर पर कमी तो आएगी ही, साथ ही साथ जलवायु परिवर्तन पर भी लगाम लगेगी. यह हमारे जीवनकाल का सबसे अजीब एवं संकटग्रस्त समय है. लेकिन साथ ही साथ यह सर्वाधिक भ्रमित करने वाला भी […]

Read More

‘मुझे लगता है कि जैसे-जैसे मैं अभिनय जैसी गूढ़ कला को समझता जाऊंगा, मेरी कद्र कम होती जाएगी’- संजीव कुमार

July 10, 2020

जाने-माने अभिनेता संजीव कुमार ने यह लेख 60 के दशक में फिल्मफेयर पत्रिका के लिए लिखा था अकबर बादशाह कब हुए और गर्मियों में आगरा का तापमान कितना रहता है, इन दो सवालों बीच सिवा इसके क्या फर्क है कि दोनों मास्टर जी का खौफ पैदा करते हैं, मुझे आज तक ठीक से नहीं मालूम. […]

Read More

उम्मीद जगाती है कश्मीर की यह सच्ची कहानी जो लोगों तक पहुंच नहीं पाती

July 10, 2020

ग़ुलाम नबी शेख़ की वजह से यह विश्वास कर पाना मुश्किल है कि कश्मीर के अनंतनाग जिले में स्थित इस मंदिर में सालों से किसी ने पूजा-अर्चना नहीं की है पिछले करीब 30 सालों से ग़ुलाम नबी शेख रोज़ फ़जर की नमाज़ मस्जिद में पढ़ने के बाद उनके घर के पास ही स्थित ज़यादेवी (जयदेवी) […]

Read More

ख्वाब, हकीकत और उम्मीद के बीच फंसी है आधी आबादी

July 9, 2020

नासिरुद्दीन बतौर समाज महिलाओं के बारे में हमारे नजरिए में क्रांतिकारी बदलाव आ गया, ऐसा कुछ हुआ नहीं। देश तो आगे बढ़ता रहा और महिलाएं भी। मगर साथ-साथ भेदभाव और गैरबराबरियों के नित नए रूप सामने आए। हिंसा का साया नए-नए तरीके से उनका पीछा करता रहा। भारत की महिलाएं उन चंद देशों में हैं […]

Read More

25 जुलाई को रिलीज होगी राजकुमार राव अभिनीत ‘ओमेर्टा’

July 9, 2020

बहुप्रतीक्षित डिजिटल रिलीज में से एक, ‘ओमर्टा’ का प्रीमियर 25 जुलाई को विशेष रूप से जी5 पर किया जाएगा। हंसल मेहता द्वारा निर्देशित, इस तेजतर्रार फिल्म में, राजकुमार राव द्वारा कुख्यात आतंकवादी अहमद उमर सईद शेख का चित्रण प्रामाणिक और क्रूर है। फिल्म में राजेश तैलंग, रूपिंदर नागरा, केवल अरोरा और टिमोथी रयान हिकर्नेल प्रमुख भूमिकाओं […]

Read More

क्या अमेरिकी पूंजीवाद, राष्ट्रवादी बन सकता है?

July 8, 2020

रिचर्ड डी. वोल्फ़ ट्रंप का राष्ट्रवाद साफ़ है, लेकिन क्या अमेरिका का पूंजीवाद राष्ट्रवादी चोला पहन सकता है? ट्रंप प्रशासन बड़े स्तर पर ”आर्थिक राष्ट्रवाद” की तरफ़ मुड़ चुका है। ट्रंप प्रशासन, विश्व व्यापार संगठन, नाटो और संयुक्त राष्ट्र पर हमले करता है और उन्हें कमज़ोर बना रहा है। ट्रंप और उनके दूसरे अधिकारी दुनिया […]

Read More

वेब सीरीज़ याने सैक्स, गाली और हिंसाः अब बायकॉट के स्वर

July 8, 2020

MASHAHID ABBAS पिछले कुछ सालों से यह चलन तेज़ी से बढ़ता जा रहा है. जिन सीन पर फिल्मों में सेसंर की कैचिंया चल जाती है उन सीन को वेब सीरीज में डालने में किसी भी तरह कि कोई बाधा सामने नहीं आती है. सोशल मीडिया पर वेब सीरीज को सेंसर करने के लिए कई बार आवाज […]

Read More

कविताएंः आनंद बहादुर

July 8, 2020

1 हम पहाड़ हैं  हमारे अंदर से  वे कंदराएं बोलती है जिन्हें प्रेम ने वहां सिरज रखा है  उन फिसलनदार चट्टानों से आती है आवाजें  जो घृणा से उपजी हैं  किसी हावभाव से  किसी गुमनाम भूआकृति का मिलता है आभास  झलकने लगती हैं असंख्य दरारों से निकलकर  इधर-उधर बहने वाली छोटी छोटी नदियां  हमारे सारे […]

Read More