Day: December 6, 2019

कश्मीर का प्रायोजित दौरा और झूठ का भूमंडलीकरण

December 6, 2019

इटली, फ्रांस और यूरोप के कई देशों की पार्लियामेंट के चुनिंदा और आम तौर पर दक्षिण-धुर दक्षिणपंथी सदस्यों का जो समूह कश्मीर के दौरे पर पहुंचा है, वह यूरोपीय संघ का संसदीय प्रतिनिधिमंडल नहीं है। उसके ईयू के डेलेगेशन होने की बात उतनी ही झूठ है, जितनी पिछले मार्च में सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे […]

Read More

आखिर क्यों कहना पड़ता है -‘आई कुड नॉट बी हिन्दू’ !

December 6, 2019

आज संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस है, बाबा साहब ने अपने लेखन में सामाजिक विषमता के कारक तत्वों की खोज करते हुए पाया था कि हिन्दू धर्म एक चार मंजिला इमारत है,जिसमें सीढ़ियां नहीं है, जो जहां जन्मता है,वहीं मरता है। उन्होंने कहा कि इस धर्म में पैदा हो जाना […]

Read More

मुक्तिबोधः पत्रकारिता के प्रगतिशील प्रतिमान —-जीवेश प्रभाकर

December 6, 2019

पिछली आधी सदी से हिन्दी साहित्य मे मुक्तिबोध की गंभीर उपस्थिति एक  गहन बौद्धिक आवरण की तरह छाई हुई है । वर्ष 2017 उनका जन्म शताब्दी वर्ष रहा। पूरे देश में मुक्तिबोध पर केन्द्रित अनेक आयोजन हैं।एक बात ग़ौरतलब है कि अधिकांश आयोजन मुक्तिबोध की कविताओं पर ही ज्यादा केन्द्रित रहे । जाहिर है कि मुक्तिबोध […]

Read More

बटरेल के आंगनबाड़ी केंद्र हुए कुपोषण मुक्त, मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

December 6, 2019

प्रदेश को कुपोषण मुक्त करने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा चलाये जा रहे मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के जमीनी नतीजे मिलने लगे हैं। जहां अच्छा कार्य हो रहा है उसकी प्रशंसा स्वयं मुख्यमंत्री द्वारा की जा रही है। दुर्ग जिले के बटरेल आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 1 और 4 के पूरी तरह कुपोषण मुक्ति के […]

Read More

हैदराबाद बलात्कार मामले में संदिग्ध व्यक्तियों की पुलिस इनकाउंटर में मौत

December 6, 2019

हैदराबाद में एक 26 साल की महिला के साथ बलात्कार और फिर उसे जला कर मार देने की घटना के 10 दिन बाद इस मामले ने शुक्रवार को एक नया मोड़ ले लिया. मामले में गिरफ्तार किये गए चार संदिग्ध व्यक्ति शुक्रवार की सुबह हैदराबाद पुलिस की कार्रवाई में मारे गए. पुलिस का कहना था कि संदिग्ध पुलिस […]

Read More

वाराणसी में मुंशी प्रेमचंद की विरासत का कोई दावेदार नहीं

December 6, 2019

“वह अमर लेखक हैं, जिनका लेखन दुनिया भर के दिलों में है.” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में उल्लेख किया था कि मुंशी प्रेमचंद की कहानियों ने उन्हें बेहद प्रभावित किया है. उन्होंने कहा था, “मुंशी प्रेमचंद की कहानियां आज भी प्रासंगिक हैं. उनकी कहानियां समाज का वास्तविक चित्रण करती […]

Read More