विमर्श

गोल बाजार रायपुर: मुख्य मंत्री भूपेश बघेल की सदाशयता और संवेदनशीलता- जीवेश चौबे

August 19, 2021

रायपुर का गोल बाजार एक अनमोल ऐतिहासिक धरोहर है जिस पर नगरवासियों को , विशेष रूप से पैदाइशी रइपुरियों को गर्व रहा है। यह न सिर्फ रायपुर बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ के लिए एक गौरव है। देखा जाए तो हर गांव कस्बे का पुराना बाजार अपनी खासियत लिए होता है ,अपनी एक विशिष्ट संस्कृति का वाहक […]

Read More

ओलंपिक हॉकी में कांस्य और स्वर्णिम युग की यादें…जीवेश चौबे

August 5, 2021

भारत ने 41 वर्षों बाद आखिर हॉकी मं पदकों के सूखेसे निजात पाते हुए टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीता। हर भारतीय के लिए एक लम्बे अरसे के बाद मिला यह कांसा भी स्वर्ण से कम नहीं है और हर हॉकी प्रेमी को इस जीत के साथ ही एक अरसे बाद जीत के नशे का […]

Read More

25 मई: भारतीय जन नाट्य संघ ( इप्टा) का स्थापना दिवस: जीवेश चौबे

May 25, 2021

आज भारतीय जन नाट्य संघ यानि इप्टा का स्थापना दिवस है । कहा जाता है कि औपचारिक रूप से आज ही के दिन 25 मई 1943 को औपनीवेशीकरण, फासीवाद और साम्राज्यवाद के खिलाफ  बंबई (आज की मुंबई) में इप्टा की स्थापना हुई थी । उल्लेखनीय है कि इप्टा की स्थापना के स्वर्ण  जयंती के अवसर […]

Read More

मार्क्सवाद के साथ गांधी मार्ग का समन्वय समय की मांग है–जीवेश प्रभाकर

May 5, 2021

किसान आंदोलन की पूरे देश में हलचल है। किसान आंदोलन के चलते न सिर्फ किसान बल्कि एक बहुत बडा वर्ग उद्वेलित है जिसमें युवा वर्ग की भागेदारी एक नए बदलाव का संकेत दे रही है। विगत लगभग 6 माह से जारी यह आंदोलन एक नया इतिहास रच रहा है जिसके भीतर से उठती ध्वनियों में […]

Read More

कौन संग खेलू होली….? – प्रभाकर चौबे

March 28, 2021

व्यंग्य में प्रभाकर चौबे एक सुपरिचित और प्रतिष्ठित नाम रहा है। देश के प्रतिष्ठित व्यंग्यकार, सुप्रसिद्ध साहित्यकार व संपादक रहे श्री प्रभाकर चौबे लगभग 6 दशकों तक अपनी लेखनी से लोकशिक्षण का कार्य करते रहे । लगभग 25 वर्षों तक देशबंधु समाचार पत्र में उनका नियमित व्यंग्य कॉलम “हंसते हैं रोते हैं ”प्रकाशित होता रहा।आज होली के अवसर […]

Read More

हिन्दू मुस्लिम के बीच बनाई गई खाई का पुल बनता किसान आंदोलन – जीवेश चौबे

February 4, 2021

किसान नेता राकेश टिकैत की भावुक अपील का वृहत्तर पैमाने पर और विशेष रूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जबरदस्त असर हुआ । पश्चिमी यूपी के जाट समुदाय ने उनकी अपील को जाट समुदाय के स्वाभिमान से जोड़ते हुए टिकैत के समर्थन में रातों रात एकजुटता का प्रदर्शन किया उससे केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा के […]

Read More

अपना हिस्सा अपना हक, मांग रहा है मेहनतकश – जीवेश चौबे

January 5, 2021

हम मेहनतकश इस दुनिया से जब अपना हिस्सा मांगेगे इक बाग़ नहीं इक खेत नहीं हम सारी दुनिया मांगेंगे             ( फैज़) फैज़ साहब की नज़्म आजदिल्ली की सीमाओं पर साकार होती नज़र आ रही है। हाड़ कंपाती ठंड में लगभग डेढ़ माह से दिल्ली सीमा पर अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे किसानों का मोर्चा […]

Read More

माता कौशल्या हो या राम, जन्मभूमि का मसला प्रमाण से ज्यादा आस्था का होता है – जीवेश चौबे

December 19, 2020

भूपेश बघेल सरकार की दूसरी वर्षगांठ पर पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर द्वारा माता कौशल्या की जन्मभूमि पर विवाद खड़ा करने की कोशिश छत्तीसगढ़ियों की आस्था पर प्रश्न चिन्ह है। ग़ौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में राम जन्मभूमि पर दिए गए फैसले में साफ कहा कि जन्मभूमि करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा मसला […]

Read More

फ्रेडरिक एंगेल्स – व्ला. इ. लेनिन

November 28, 2020

 फ्रेडरिक एंगेल्स (जन्मतिथिः 28 नवम्बर, 1820) मज़दूर वर्ग और समस्त मानवता की मुक्ति की विचारधारा, वैज्ञानिक कम्युनिज़्म के सिद्धान्त को विकसित करने कार्ल मार्क्स के अनन्य सहयोगी और मित्र थे। आधुनिक सर्वहारा के महान शिक्षकों में कार्ल मार्क्स के बाद उनका ही नाम आता है। मार्क्स की मृत्यु के बाद एंगेल्स अंतिम साँस तक यूरोप […]

Read More

गांधीः चमकाओ इतना कि पूरा देश, पूरी दुनिया इस चमक से भर जाए – प्रियंवद

October 2, 2020

मेरे पास गांधी की पीतल की एक प्रतिमा है। करीब सवा फिट ऊँची। बहुत पहले मेरे पिता पैंतीस रुपए में खरीद कर लाए थे। कहाँ से, यह मुझे याद नहीं। प्रतिमा तीन सीढ़ियों के ऊपर रखी है। गांधी का ‘बस्ट’ बना है। पीतल पर सारा काम है। गांधी के चादर की सलवटें, गले की झुर्रियाँ, […]

Read More