Author: admin

पांच सितम्बर शिक्षक दिवस उर्फ पोला दिवस – प्रभाकर चौबे

September 5, 2021

शीर्षक देखकर चौंकने की जरूरत नहीं है। दोनो की एक साथ याद यूं आई कि शिक्षक सरकार के सबसे बड़े पशुधन हैं। मराठी में बैल को पोल कहते हैं- हमारे यहां पोल आकर पोला हो गया। पोला है बैलों का त्यौहार। पोला के दिन बैलों को सजाते सँवारते हैं, उसकी पूजा करते हैं  कि हे […]

Read More

अमेरिकी साम्राज्यवाद की साजिश को उजागर करें अपनी आज़ाद नज़र से: सईद नक़वी

September 3, 2021

– हरनाम सिंह और विनीत तिवारी   सन 1947 में हम आजाद जरूर हुए लेकिन अंग्रेजी साम्राज्यवाद और दुनिया के साम्राज्यवाद ने अप्रत्यक्ष तरह से शुरू से ही हम पर और हमारी विदेश नीति पर यह दबाव बनाए रखा कि कहीं हम सही अर्थों में लोकतांत्रिक और समाजवादी देश न बन जाएँ। नेहरू के युग और […]

Read More

Return of the Taliban

September 1, 2021

Apratim Mukarji For the second time in twenty years the dreaded Islamist fundamentalist force, the Taliban, have returned to power, the first time in 1994-96 by waging war against the Afghanistan state then run by the Burhanuddin Rabbani-Ahmad Shah Massoud government and this time, in the August of 2021 through a machivellian combination of warfare […]

Read More

विशेष: कृष्ण को कुछ इस तरह भी देखिए

August 30, 2021

अनिल जैन नज़रिया: हर समाज, देश और युग में कोई न कोई महानायक हुआ है जिसने अन्याय और अत्याचार के तत्कालीन यथार्थ से जूझते हुए स्थापित व्यवस्था को चुनौती दी है और सामाजिक न्याय की स्थापना के प्रयास करते हुए न सिर्फ अपने समकालीन समाज को बल्कि आने वाली पीढ़ियों को भी गहरे तक प्रभावित किया […]

Read More

अमृत महोत्सव वर्ष में आज़ाद भारत की विभीषिका बताती हैं ये चार तस्वीरें

August 30, 2021

प्रेम कुमार बंटवारे के वक्त तो बंटे हुए लोग एक-दूसरे के ख़ून के प्यासे हो रहे थे। आज़ाद हिन्दुस्तान के नागरिक तो बंटे हुए नहीं हैं फिर भी वे एक-दूसरे के ख़ून के प्यासे क्यों हो जाते हैं? क्यों आज़ाद हिन्दुस्तान का नागरिक प्रशासन अपने नागरिकों के ही ख़ून बहाने को तुला हुआ है? और, […]

Read More

कल्याण सिंह, संघ और ओबीसी राजनीति – राम पुनियानी

August 28, 2021

लंबे समय तक भाजपा की छवि ऊंची जातियों की पार्टी की थी. कल्याण सिंह, उमा भारती और विनय कटियार जैसे लोगों ने उसे ओबीसी की पार्टी भी बनाने में मदद की. कल्याण सिंह एक प्रमुख ओबीसी नेता थे जिनकी पैठ उनके स्वयं के लोध समुदाय के अतिरिक्त उत्तरप्रदेश की अन्य गैर-यादव ओबीसी जातियों जैसे मल्लाह, […]

Read More

बिहार के 10 दलों ने जातिगत जनगणना के समर्थन में प्रधानमंत्री मोदी से की मुलाकात

August 23, 2021

बिहार के 10 दलों के प्रतिनिधिमंडल ने देश भर में जाति आधारित जनगणना कराए जाने के समर्थन में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में नीतीश कुमार के अलावा राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव,भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समेत कई अन्य दलों के प्रतिनिधि भी शामिल थे। नीतीश और तेजस्वी […]

Read More

“वैज्ञानिक मनोवृत्ति” विकसित करने का कर्तव्य

August 23, 2021

प्रशांत पद्मनाभन तर्कवादी सामाजिक कार्यकर्ता नरेंद्र दाभोलकर की 8वीं पुण्यतिथि के बाद प्रशांत पद्मनाभन ने उनकी विरासत को याद करते हुए लिखा है कि “वैज्ञानिक मनोवृत्ति” क्या होती है और कैसे इसका विकास किया जा सकता है। तर्कवादी सामाजिक कार्यकर्ता नरेंद्र दाभोलकर की 8वीं पुण्यतिथि के बाद प्रशांत पद्मनाभन ने उनकी विरासत को याद करते हुए लिखा […]

Read More

‘200: हल्ला हो’: दलितों के शोषण और उसके बदले पर बनी है फ़िल्म

August 21, 2021

अमिताभ फिल्म मेलोड्रामा से बच सकती तो हिंदी सिनेमा में दलित विमर्श का एक गंभीर प्रस्थान बिंदु बन सकती थी। फिर भी, यह विषय उठाने के लिए निर्देशक बधाई के हक़दार हैं। देखने लायक फ़िल्म है और जी5 पर देखी जा सकती है। 2004 में नागपुर में दलित महिलाओं के एक समूह ने बलात्कार और […]

Read More

विभाजन की विभीषिका को क्यों याद करें हम?- राम पुनियानी

August 21, 2021

भारत का बंटवारा 20 वीं सदी की सबसे बड़ी त्रासदियों में से एक था. बंटवारे के दौरान जितनी बड़ी संख्या में लोगों की जानें गईं और जिस बड़े पैमाने पर उन्हें अपने घर-गांव छोड़कर सैकड़ों मील दूर अनजान स्थानों पर जाना पड़ा, उस पैमाने की त्रासदी दुनिया में कम ही हुईं हैं. बंटवारे के घाव […]

Read More